जयपुर चार लाख सरकारी नौकरी, 1500 डॉक्टरों और 400 नर्सिंग कर्मियों के नए पदों का एलान; जम्मू बाबा बर्फानी के दर्शन के लिए भक्तों में गजब का उत्साह, पिछले साल से दोगुना श्रद्धालु पहुंच रहे अमरनाथ धाम शिमला मुख्यमंत्री सुक्खू की पत्नी चुनाव मैदान में होने से देहरा में रोचक स्थिति, 13 जुलाई को आएंगे नतीजे भीमताल छुट्टी पर घर आए थे फौज में भर्ती पांच दोस्‍त, नहाते समय गधेरे के तेज बहाव में एक डूबा; लापता मोतिहारी उन्नाव सड़क हादसे में बिहार के 11 की मौत, एक ही परिवार के 6 लोगों ने गंवाई जान उन्नाव लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे हादसे पर बड़ा खुलासा, ड्राइवर ने ढाबे पर पी थी शराब; 100 KM थी बस की रफ्तार उन्नाव दर्दनाक हादसे में 18 की मौत... राष्ट्रपति, पीएम मोदी, खरगे, योगी समेत कई नेताओं ने जताया दुख नई दिल्ली मुस्लिम महिला भी पति से मांग सकती है गुजारा भत्ता कोर्ट ने सुनाया सुप्रीम फैसला CrPC की धारा 125 का दिया हवाला
EPaper SignIn
जयपुर - चार लाख सरकारी नौकरी, 1500 डॉक्टरों और 400 नर्सिंग कर्मियों के नए पदों का एलान;     जम्मू - बाबा बर्फानी के दर्शन के लिए भक्तों में गजब का उत्साह, पिछले साल से दोगुना श्रद्धालु पहुंच रहे अमरनाथ धाम     शिमला - मुख्यमंत्री सुक्खू की पत्नी चुनाव मैदान में होने से देहरा में रोचक स्थिति, 13 जुलाई को आएंगे नतीजे     भीमताल - छुट्टी पर घर आए थे फौज में भर्ती पांच दोस्‍त, नहाते समय गधेरे के तेज बहाव में एक डूबा; लापता     मोतिहारी - उन्नाव सड़क हादसे में बिहार के 11 की मौत, एक ही परिवार के 6 लोगों ने गंवाई जान     उन्नाव - लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे हादसे पर बड़ा खुलासा, ड्राइवर ने ढाबे पर पी थी शराब; 100 KM थी बस की रफ्तार     उन्नाव - दर्दनाक हादसे में 18 की मौत... राष्ट्रपति, पीएम मोदी, खरगे, योगी समेत कई नेताओं ने जताया दुख     नई दिल्ली - मुस्लिम महिला भी पति से मांग सकती है गुजारा भत्ता कोर्ट ने सुनाया सुप्रीम फैसला CrPC की धारा 125 का दिया हवाला    

पश्चिम मेदिनीपुर जिले में अखिल भारतीय मांग दिवस मनाया गया
  • 151066073 - AJOY KUMAR CHOWDHURY 0



खड़गपुर. आज पश्चिम मेदिनीपुर जिले के विभिन्न इलाकों में भारतीय ट्रेड यूनियन केंद्र (सीआईटीयू) द्वारा आहूत अखिल भारतीय मांग दिवस मनाया गया। खड़गपुर उप श्रम आयुक्त (डीएलसी) कार्यालय में एक महत्वपूर्ण कार्यक्रम हुआ, जहां दो घंटे का प्रवास और प्रतिनिधिमंडल आयोजित किया गया। प्रमुख मांगों में विवादास्पद श्रमिक संहिता को निरस्त करना, 26,000 रुपये का न्यूनतम मासिक वेतन, 9,000 रुपये की पेंशन और ठेका श्रमिकों के लिए बेहतर समर्थन शामिल थे। प्रदर्शनकारियों ने वेतन वृद्धि और नौकरी की सुरक्षा से जुड़े मुद्दे भी उठाए। विरोध प्रदर्शन को आगे बढ़ाने वाली एक उल्लेखनीय घटना डेबरा पेपर मिल के संपादक नलिनी नाइक की बर्खास्तगी थी, कथित तौर पर सीआईटीयू से जुड़े होने के कारण। नाइक को बहाल किए जाने तक प्रदर्शनकारी अपनी लड़ाई जारी रखेंगे। इसके अलावा, प्रदर्शनकारियों ने औद्योगिक विकास को बढ़ावा देते हुए खड़गपुर शहर के आसपास के पर्यावरण की रक्षा करने की आवश्यकता पर प्रकाश डाला। प्रतिनिधिमंडल को गोपाल प्रमाणिक, महासचिव कमल पलामल, सबुज घोराई, स्मृतिखाना, देबनाथ, कालोबरन सरकार और दिलीप डे सहित प्रमुख नेताओं ने संबोधित किया। प्रदर्शनकारियों ने अपनी मांगें पूरी होने तक श्रमिकों के अधिकारों और पर्यावरण संरक्षण के लिए अपने संघर्ष को जारी रखने की शपथ ली।

जिला प्रभारी अजय चौधरी की रिपोर्ट।


Subscriber

173892

No. of Visitors

FastMail

जयपुर - चार लाख सरकारी नौकरी, 1500 डॉक्टरों और 400 नर्सिंग कर्मियों के नए पदों का एलान;     जम्मू - बाबा बर्फानी के दर्शन के लिए भक्तों में गजब का उत्साह, पिछले साल से दोगुना श्रद्धालु पहुंच रहे अमरनाथ धाम     शिमला - मुख्यमंत्री सुक्खू की पत्नी चुनाव मैदान में होने से देहरा में रोचक स्थिति, 13 जुलाई को आएंगे नतीजे     भीमताल - छुट्टी पर घर आए थे फौज में भर्ती पांच दोस्‍त, नहाते समय गधेरे के तेज बहाव में एक डूबा; लापता     मोतिहारी - उन्नाव सड़क हादसे में बिहार के 11 की मौत, एक ही परिवार के 6 लोगों ने गंवाई जान     उन्नाव - लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे हादसे पर बड़ा खुलासा, ड्राइवर ने ढाबे पर पी थी शराब; 100 KM थी बस की रफ्तार     उन्नाव - दर्दनाक हादसे में 18 की मौत... राष्ट्रपति, पीएम मोदी, खरगे, योगी समेत कई नेताओं ने जताया दुख     नई दिल्ली - मुस्लिम महिला भी पति से मांग सकती है गुजारा भत्ता कोर्ट ने सुनाया सुप्रीम फैसला CrPC की धारा 125 का दिया हवाला