वाराणसी 22 फ़रवरी को पीएम मोदी आयंगे काशी संत समाज करेगा अभिनंदन, किए जाएंगे धार्मिक अनुष्ठान वाराणसी राहुल गांधी ने जहां खड़े होकर दिया भाषण, भाजपा नेता ने उस जगह को 51 लीटर गंगाजल से धोया यूपी गरज-चमक के साथ बरसेंगे बादल, गिरेंगे ओले, क्या लौटेगी कड़ाके की ठंड? मुजफ्फरनगर टाइमर बम की मास्टरमाइंड इमराना गिरफ्तार, पूछताछ में मिली चौंकाने वाली जानकारी नई दिल्ली पहाड़ी इलाकों में होगी बर्फबारी, दिल्ली में आंधी और बिजली के साथ बारिश के आसार मध्य प्रदेश कमलनाथ आज कर सकते हैं BJP नेताओं से मुलाकात नई दिल्ली किसानों के साथ आज होगी सरकार की चौथे दौर की वार्ता, शंभू बॉर्डर पर डटे हैं आंदोलनकारी
EPaper SignIn
वाराणसी - 22 फ़रवरी को पीएम मोदी आयंगे काशी संत समाज करेगा अभिनंदन, किए जाएंगे धार्मिक अनुष्ठान     वाराणसी - राहुल गांधी ने जहां खड़े होकर दिया भाषण, भाजपा नेता ने उस जगह को 51 लीटर गंगाजल से धोया     यूपी - गरज-चमक के साथ बरसेंगे बादल, गिरेंगे ओले, क्या लौटेगी कड़ाके की ठंड?     मुजफ्फरनगर - टाइमर बम की मास्टरमाइंड इमराना गिरफ्तार, पूछताछ में मिली चौंकाने वाली जानकारी     नई दिल्ली - पहाड़ी इलाकों में होगी बर्फबारी, दिल्ली में आंधी और बिजली के साथ बारिश के आसार     मध्य प्रदेश - कमलनाथ आज कर सकते हैं BJP नेताओं से मुलाकात     नई दिल्ली - किसानों के साथ आज होगी सरकार की चौथे दौर की वार्ता, शंभू बॉर्डर पर डटे हैं आंदोलनकारी    

क्‍यों मनाई जाती है करवा चौथ, क्‍या है इसकी वजह ?
  • 151000001 - PRABHAKAR DWIVEDI 0



करवा चौथ पति और पत्‍नी के बीच के प्रेम को दर्शाने वाला बेहद निष्‍ठापूर्ण व श्रद्धा भाव से उपवास रखने का त्‍योहार है। पूरे देश में धूमधाम से इस त्योहार को मनाया जाता है। प्राचीनकाल से महिलाएं अपने पति की दीर्घायु के लिए य‍ह व्रत करती चली आ रही हैं। इस दिन सुहागिन महिलाएं पति की दीर्घायु के लिए व्रत करती है और ईश्‍वर से आशीर्वाद प्राप्‍त करती है। य‍ह त्‍योहार क्‍यों मनाया जाता है और कैसे शुरू हुई इसको मनाने की परंपरा आज हम आपको इसके बारे में बताने जा रहे हैं।

क्‍यों किया जाता है करवा चौथ

पौराणिक काल से यह मान्‍यता चली आ रही है कि पतिव्रता सती सावित्री के पति सत्‍यवान को लेने जब यमराज धरती पर आए तो सत्‍यवान की पत्‍नी ने यमराज से अपने पति के प्राण वापस मांगने की प्रार्थना की। उसने यमराज से कहा कि वह उसके सुहाग को वापस लौटा दें। मगर यमराज ने उसकी बात नहीं मानी। इस पर सावित्री अन्‍न जल त्‍यागकर अपने पति के मृत शरीर के पास बैठकर विलाप करने लगी। काफी समय‍ि तक सावित्री के हठ को देखकर यमराज को उस पर दया आ गई। यमराज ने उससे वर मांगने को कहा। इस पर सावित्री ने कई बच्‍चों की मां बनने का वर मांग लिया। सावित्री पतिव्रता नारी था और अपने पति के अलावा किसी के बारे में सोच भी नहीं सकती थी तो यमराज को भी उसके आगे झुकना पड़ा और सत्‍यवान को जीवित कर दिया। तभी से अखंड सौभाग्य की प्राप्ति के लिए महिलाएं सावित्री का अनुसरण करते हुए निर्जला व्रत करती हैं।

यह भी है एक वजह

करवा चौथ का व्रत मुख्‍य रूप से देश के उत्‍तर और पश्चिम राज्‍यों की महिलाएं रखती हैं। ऐसा माना जाता है कि प्राचीन काल से ही इन राज्‍यों के पुरुष सेना में काम करते आ रहे हैं और पुलिस में भर्ती होते रहे हैं। तो इनकी सलामती के लिए इन राज्‍यों की महिलाएं करवा चौथ का व्र‍त करती हैं। जिससे कि उनके पति की दुश्‍मनों से रक्षा हो सके और उनकी आयु लंबी हो। वहीं जिस वक्‍त यह त्‍योहार मनाया जाता है उन दिनों में रबी की फसल यानी गेहूं की फसल बोई जाती है। कुछ स्‍थानों पर महिलाएं करवा में गेहूं भी भरकर रखती हैं और भगवान को अर्पित करती हैं। ताकि उनके घर में गेहूं की शानदार फसल पैदा हो।


Subscriber

172860

No. of Visitors

FastMail

वाराणसी - 22 फ़रवरी को पीएम मोदी आयंगे काशी संत समाज करेगा अभिनंदन, किए जाएंगे धार्मिक अनुष्ठान     वाराणसी - राहुल गांधी ने जहां खड़े होकर दिया भाषण, भाजपा नेता ने उस जगह को 51 लीटर गंगाजल से धोया     यूपी - गरज-चमक के साथ बरसेंगे बादल, गिरेंगे ओले, क्या लौटेगी कड़ाके की ठंड?     मुजफ्फरनगर - टाइमर बम की मास्टरमाइंड इमराना गिरफ्तार, पूछताछ में मिली चौंकाने वाली जानकारी     नई दिल्ली - पहाड़ी इलाकों में होगी बर्फबारी, दिल्ली में आंधी और बिजली के साथ बारिश के आसार     मध्य प्रदेश - कमलनाथ आज कर सकते हैं BJP नेताओं से मुलाकात     नई दिल्ली - किसानों के साथ आज होगी सरकार की चौथे दौर की वार्ता, शंभू बॉर्डर पर डटे हैं आंदोलनकारी